Featured post

ईवीएम में गड़बड़ी के बिना ऐसे रिजल्ट नामुमकिन. क्या यूपी में भी हुआ ईवीएम घोटाला ?

आज सुबह से जैसे जैसे चुनाव के नाजिजे आने लगे सोशल मीडिया पर ईवीएम घोटाले का ट्रेंड जोरो  से चलने लगा. 90 प्रतिशत लोगो का मानना है की यूपी चुनाव में ईवीएम में गड़बड़ी की गयी है.

महाराष्ट्र में ईवीएम को लेकर संदेह का माहौल है। वहाँ के कुछ मित्र संदेह जता रहे हैं कि यूपी में ईवीएम घोटाला तो नहीं हो जाएगा। मुझे लगता है कि जिन दलों की चार से पाँच बार सरकार रही है, वहाँ अगर उन्होंने नौकरशाही में, सरकारी नौकरियों में पर्याप्त संख्या में अपने विचार के लोग नहीं पहुँचाए हैं, तभी ईवीएम घोटाला संभव है। अगर यूपी में ईवीएम घोटाला होता है तो इसका मतलब होगा कि नौकरशाही में अपने लोगों को भरने के मामले में ग़ैर-कांग्रेस, ग़ैर-भाजपा दल निकम्मे हैं। उन्हें कांग्रेस और बीजेपी से सीखना चाहिए।  यूपी में ईवीएम घोटाला मुमकिन नहीं है। ठीक उसी तरह जैसे बिहार में यह मुमकिन नहीं है।
-वरिष्ठ पत्रकार दिलीप मंडल


  

11 February 2017 को प्रकाशित खबर पर एक नजर
यूपी: EVM मशीन में गड़बड़ी के चलते कई जगहों पर रुका मतदान
यूपी विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान आज सुबह सात बजे से शुरू हो गया। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 15 जिलों की 73 विधानसभा सीटों के लिए वोट डाले जा रहे हैं। शाम पांच बजे तक वोट डाले जा सकेंगे। मतदान के लिए पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं। 826 कंपनी केंद्रीय बलों की ड्यूटी लगाई गई है।

मतदान के दौरान कई पोलिंग बूथों पर ईवीएम मशीन में खराबी आ जाने से मतदान बीच में ही रोक देना पड़ा। बागपत के पोलिंग बूथ पर ईवीएम में गड़बड़ी आने की भी खबरें आई हैं, जिसकी वजह से मतदान कुछ समय के रूक गया। वहीं, फिरोजाबाद के लेबर कॉलोनी में बूथ संख्या 169 में ईवीएम मशीन में खराबी के चलते 7.50 तक मतदान शुरू नहीं हो सका। इसके अलावा हापुड़ और कई अन्य मतदान केंद्रों पर भी ईवीएम मशीन में खराबी के चलते लोगों को अपने मताधिकार का प्रयोग करते समय दिक्कत हुई है। वहीं जलेसर विधानसभा के बूथ नंबर 131, 132, और 133 में भी मशीन की खराबी के चलते मतदान शुरू नहीं हो सका।

पहले चरण में जिन 73 सीटों के लिए मतदान जारी है उसमे कई विधानसभा झेत्र बेहद ही संवेदनशील माने जाते हैं। इन जगहों पर चुनाव आयोग ने वीडिया ग्राफी की व्यवस्था की गई है।


  

Comments